पिछले कुछ दिनों किंडल पर पढ़ी पुस्तकें

पिछले कुछ दिनों में अमेज़न किंडल पर पढ़ी पुस्तकें

:

भूतों के देश में : आइसलैंड की यात्रा का रोमांचकारी वर्णन समेटे हुए यह किताब पन्ने पलटते हुए आपको अलौकिक आभास करवाएगी। नॉर्वे निवासी खाँटी बिहारी लेखक व रेडियोलॉजिस्ट Praveen Jha जी द्वारा टाइपित (सिर्फ ऑनलाइन उपलब्ध) खिलंदर साहित्य का अद्वितीय उदाहरण यह पुस्तक बर्फीले देश, भूत, तांत्रिक, अलहदा जीवनशैली, रोमांचकारी बर्फीले तूफानों, तंत्रविद्या, तिलिस्म और रहस्य का सम्मिश्रण है।

मुझे तुम्हारे जाने से नफ़रत है : झारखण्ड के जमशेदपुर में पली-बढ़ी और तंजानिया में रहने वाली प्रियंका ओम जी द्वारा लिखित कहानी संग्रह “मुझे तेरे जाने से नफ़रत है” उनके अनुभवों एवं काल्पनिक चित्रण क्षमता का सशक्त उदाहरण है। किशोरावस्था में प्रेम-आकर्षण के सहज भावों के माध्यम से दर्शाए गए पात्रों के ताने-बाने में खूबसूरत कहानी पिरोयी गई है। उनके निजी जीवन पर आधारित एक कहानी ने मुझे सर्वाधिक प्रभावित किया। कमोबेश प्रत्येक कहानी में लेखिका अपने व्यक्तित्व एवं बेबाक शैली की छाप छोड़ने में सफल रहीं है। लेखन शैली का आधुनिकीकरण कहानी संग्रह को खास बनाता है।

डार्क नाईट: एक और भारतीय परन्तु विदेश में रहनेवाले लेखक Sandeep Nayyar जी की कृति। लंदन में रहने वाले लेखक द्वारा लंदन की पृष्ठभूमि पर आधारित एक इक्कीसवीं सदी की कहानी-संग्रह कम उपन्यास। छोटे-छोटे अध्यायों में बँटी हुई यह किताब अपने मुख्य पात्र पर अंत तक केंद्रित रहती है। लंदन की चकाचौंध व रईस माँ-पिता के युवा संतानों की प्रेम कहानियाँ, पल भर में जुटते-टूटते सम्बन्ध, क्षणिक रिश्तों की विस्मयकारी लेखनशैली से ओत-प्रोत यह पुस्तक किसी बॉलीवुड फिल्म की पटकथा के लिए भी उपयुक्त है।

आज से अनूप शुक्ल जी द्वारा संपादित आलोक पुराणिक: व्यंग्य का एटीएम चालू..

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *