डार्क नाइट – हिकमा पार्ट 1

जिन्दगी भी बड़े अजीब –अजीब से खेल दिखाती है ,कुछ चीज़ों को दिमाग भुला देता है,और कुछ को दिल, मगर पहला प्यार तो पहला ही होता है ,उसके अहसास को शब्दों मैं बयां नहीं किया जा सकता . कभी –कभी उन बातो को सोच के ऐसा लगता है कि, काश वो वक़्त समुंद्र के किनारे रेत पे लिखे नामों जैसा […]

Read more

डार्क नाइट वाला प्यार

बारिश की एक शाम ,दिन भर झम –झम करते अब वो थक गयी थी .बड़ी खुशनुमा शाम थी, कबीर और माया एक दूसरे का हाथ थामे लंदन की गलियों मैं चहलकदमी कर रहे थे . कबीर अपनी जिन्दगी से खुश नज़र आ रहा था ,एक नज़र उसने माया की तरफ डाली ,ये वही पल था जब माया और कबीर दोनों […]

Read more

डार्क नाइट – मीरा पार्ट 2

होली प्यार और रंगों का त्योहार हम हिन्दुस्तानियों की बहुत सारी खूबियों मैं एक खूबी ये है कि हम घर से कितनी भी दूर रहे, मगर अपना त्योहार मनाना नहीं भूलते और  बात अगर होली जैसे त्योहार की हो तो क्या कहने . पिछले कुछ सालो से ‘काम’ अपने नोट्टिंग हिल वाले बंगले पे होली का आयोजन करता था. ‘तुम्हे […]

Read more

डार्क नाईट – मीरा पार्ट 1

डार्क नाईट – मीरा ‘रोहित क्या किसी का नाम “काम” हो सकता है?’ गाड़ी में अपना सामना रखते हुए मीरा ने कहा . ‘क्या?’ रोहित ने सीट बेल्ट लगाते हुए आश्चर्य से कहा ‘हाँ मुझे बभी बड़ा अजीब सा नाम लगा’ . कार Heathrow एअरपोर्ट से निकल कर सेंट्रल लंदन की और दौड़ लगा रही थी . ‘हाँ, कुछ तो अजीब सा […]

Read more