ख़ैर-मक़्दम करें सत्य व्यास का

सत्य व्यास के जुड़ने से लिटरेचर लाइफ के गौरव को एक नया आयाम मिला है. सत्य व्यास न सिर्फ़ साहित्य विशारद हैं बल्कि उनका फिल्मों का ज्ञान भी अद्भुत है. मेरी नज़र में सत्य इकलौते ऐसे लेखक हैं जो साहित्य पर फ़िल्मी और फिल्मों पर साहित्यिक अंदाज़ से लिखने की महारत रखते हैं. आइए लिटरेचर लाइफ में ख़ैर-मक़्दम करें सत्य व्यास का.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *