कथा संरचना – लेखन शैली पर कुछ बातें

प्रवीण झा ने कथा संरचना में पहली पंक्ति के महत्त्व पर जो बातें कही हैं उनसे ही आगे कहना चाहता हूँ. प्रवीण ने बहुत सही बात कही कि यदि पहली पंक्ति ही उत्सुकता न जगाए तो पढ़ने का उत्साह ठण्डा पड़ने लगता है. दरअसल पहली पंक्ति ही नहीं बल्कि पहला पूरा पैराग्राफ ही बहुत महत्वपूर्ण होता है. पहला पैराग्राफ ही […]

Read more

गंभीर लेखन बनाम लोकप्रिय लेखन

गंभीर लेखन बनाम लोकप्रिय लेखन? यह बड़ा ही मसालेदार विषय है जो आज की बात नहीं है। इसमें दो पक्ष उलझते हैं और निष्पक्ष मजा लेते हैं। यह तब से प्रचलन में हैं जब से मुद्रित लेखन बाजार में आने लगे। है क्या यह और अंतर क्या है? एक वाक़ये से कहने का प्रयास करता हूँ। राजकुमारी सालिंगा और कुँवर […]

Read more