क्यों प्रेम की शुरुआत पुरुष करते हैं और उसे निभाती महिलाएँ हैं?

डॉ. अबरार मुल्तानी कृत ‘क्यों प्रेम की शुरुआत पुरुष करते हैं और उसे निभाती महिलाएँ हैं? : स्त्री-पुरुष संबंधो को मधुर बनाने वाली पुस्तक’ का एक विहंगावलोकन।   “खुसरो दरिया प्रेम का, उलटी वा की धार । जो उतरा सो डूब गया, जो डूबा सो पार ।।” पुस्तक की प्रेरणा पवित्र कुरआन की ये पंक्तियाँ हैं : ‘पति-पत्नी इक-दूजे के लिबास हैं […]

Read more

रोगों की जड़ मन में होती है

पिछले तीन-चार दिनों से गाड़ी चलाने में परेशानी हो रही थी। लग रहा था कि पिछले पहिए में हवा का दबाव काफ़ी कम हो गया है। इसके चलते महसूस हो रहा था कि गाड़ी चलते वक़्त लहरा रही है। मन में चिंता भी लगी थी कि कम हवा के चलते कहीं नया टायर ख़राब न हो जाए या ट्यूब कट […]

Read more